BollywoodMovie-Reviewsमनोरंजन

Shaitaan: बनके मेहमान आया ”शैतान”

Movie Review : Shaitaan

Story Highlights
  • बनके मेहमान आया शैतान

Bollywood Movie Reviews
Shaitaan: IMDB Critic Review
Cast - Ajay Devgn, R Madhavan,Janki Bodiwala, Jyotika, Anngad Raaj, Pallak Lalwani,
Director - Vikas Bahl
Producer - Vikas Bahl, Kumar Mangat, Ajay Devgn, Jyotika
Runtime 100 minutes
RATING 2.5/5
GAAM GHAR News

Entertainment / Bollywood Movie Reviews : विकास बहल (Vikas Bahl) ने इस बार अजय देवगन (Ajay Devgn) और आर माधवन (R Madhavan) के साथ मिलकर शैतान में अपने जॉनर से हटकर काम किया है । जैसा कि फिल्म के नाम से ही लगता है फिल्म भूतिया किस्म की होगी और है भी । फिल्म की कहानी अजय देवगन के हंसते-खेलते परिवार से शुरू होती है जो छुट्टी मनाने के लिए अपने फार्म हाउस जाता है लेकिन रास्ते में ही उसे शैतान मिल जाता है, जो थोड़ी सी शिष्टता दिखा कर अजय देवगन की बेटी जानकी बोदीवाला (Janki Bodiwala) ‘जानवी’  को अपने वश में कर लेता हैं और अजय देवगन के परिवार के पीछे पीछे उसके फार्म हाउस तक चला आता है ।

 फिर अजय देवगन के परिवार में शुरू होता है भूतिया खेल, दरअसल आर माधवन ये सारा खेल जानवी को अपने साथ ले जाने के लिए खेलता है जिसमे वो कामियाब हो भी जाता है । आर माधवन अपनी कमियाबी के लिए एक बहन के हाथो उसके अपने ही भाई का सिर फोरवा देता है, यहां तक कि बेटी के हाथों बाप को भी पिटवा देता और तब भी बात नहीं बनती है तो आर माधवन जानवी को अपने ही भाई को जान से मार देने का आदेश दे देता है ।

यह भी पढ़ें  अंतर्राष्ट्रीय दंगल कुश्ती : प्रतियोगिता में पहलवानों ने विरोधियों को चटाई धूल

अजय देवगन एक मजबूर बाप की तरह हर कुछ झेलता रहता है, आर माधवन अजय देवगन को इतना मजबूर कर देता है कि अजय देवगन, आर माधवन को जानवी को ले जाने का आदेश दे देता है। फिल्म की कहानी बेहतरीन है लेकिन स्क्रीनप्ले पर काम उतना ही खराब हुआ है अगर स्क्रीनप्ले पर मेहनत की गई होती तो शैतान बेहद शानदार फिल्म होती। फिल्म के सभी किरदारों ने अपने-अपने किरदार को बखूबी निभाया है लेकिन कमजोर पटकथा शैतान को पूरी तरह शैतान नहीं बनने दिया ।

यह भी पढ़ें  7 जुलाई को होगी रिलीज अक्षरा सिंह और राहुल शर्मा की फ़िल्म 'डार्लिंग'

फिल्म पहले हाफ में तो बहुत अच्छी रही लेकिन दूसरे हाफ में अपने पीछे बहुत सारे उलझे सवाल छोड़ जाती है । फिल्म में जानकी बोदीवाला ने बेहरीन अभिनय किया है जानकी ने अपने अभिनय से अपने किरदार को जीवंत कर दिया है साथ ही आर माधवन ने भी बहुत अच्छा अभिनय किया है लेकिन कुछ जगहों पर वो चूक गए हैं जैसे डराने के लिए माधवन का हंसना, लेकिन उनके हंसने से जरा भी डर नहीं लगता है ।

यह भी पढ़ें  खेग्रामस और मनरेगा मजदूर सभा के अह्रवान पर दलित-गरीब-मजदूरों का 14 मार्च विधानसभा के समक्ष प्रदर्शन की तैयारी में बैठक कर जनसंपर्क

फिल्म का नायक होने का बावजूद भी फिल्म में अजय देवगन के करने लिए ज्यादा कुछ नहीं है फिर भी अजय देवगन ने बेहतरीन अभिनय किया इसके साथ ही अजय देवगन की पत्नी के किरदार में ज्योतिका ने भी बढ़िया काम किया है लेकिन फिल्म की पटकथा सारा खेल बिगाड़ देती है । फिल्म संगीत भी असरदार नहीं है जो दर्शकों के रोंगटे खड़े कर दे और न ही ऐसा कोई दृश्य है, फिल्म संगीत औसत है ।

फिल्म की कहानी जितनी शानदार है इस हिसाब से विकास बहल फिल्म को संभाल नही पाए, बाकी सारे किरदारों ने तो अपना काम बखूबी निभाया है । फिल्म रेटिंग की बात करें तो फिल्म को 2-2.5 मिलने चाहिए। (This review is featured in IMDb Critics Reviews)

Ashok Ashq

Ashok ‘’Ashq’’, Working with Gaam Ghar News as a Co-Editor. Ashok is an all rounder, he can write articles on any beat whether it is entertainment, business, politics and sports, he can deal with it.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button