BollywoodMovie-Reviewsमनोरंजन

Kartam Bhugtam: श्रेयस ने भुगता करतम को

करतम भुगतम देखम

Bollywood Movie Reviews
Kartam Bhugtam : IMDB Critic Review
Cast -  Vijay Raaz, Shreyas Talpade, Madhoo, Aksha Pardasany, Gaurav Daagar, Rohann Sharma
Director -  Soham Shah
Producer -  
Runtime 131 minutes 
RATING 2/5
GAAM GHAR News

Entertainment / Bollywood Movie Kartam Bhugtam Reviews : श्रेयश तलपड़े (Shreyas Talpade) की नई फिल्म करतम भुगतम (Kartam Bhugtam) रिलीज हो चुकी है । फिल्म की कहानी ईश्वर और ज्योतिष में आस्था रखने पर आधारित है फिल्म का विषय बहुत अच्छा है। फिल्म में ये दिखाया गया है कि किसी भी इंसान को पूजा-पाठ या ज्योतिष में विश्वास रखना चाहिए या नहीं, अगर रखना चाहिए तो कितना कहीं ऐसा तो नहीं कि आप पूजा-पाठ, ज्योतिष या किसी बाबा के चक्कर में पड़ कर अपनी जिंदगी तो नहीं खराब कर रहे हैं ? फिल्म के कहानी की शुरुआत होती है विदेश से श्रेयस के घर लौटने से श्रेयश की मां बचपन में ही मर जाती है और श्रेयस को उसके पिता पालपोस कर बड़ा करते हैं, श्रेयस पढ़-लिख कर विदेश में जॉब करने चला जाता है इसी बीच कोविड जैसी महामारी आती है और श्रेयस के पिता भी चल बसते हैं ।

फिर श्रेयस विदेश से इंडिया लौटता है अपनी पैतृक संपत्ति और पिता की जमा पूंजी लेने लेकिन श्रेयस का सारा काम किसी न किसी कारण रुक जाता है, इसी बीच श्रेयस की मुलाकात विजय राज से होती है जो एक ज्योतिष है । ऐसे तो श्रेयस इन चीजों में विश्वास नहीं रखता है लेकिन कहते हैं न मरता क्या नहीं करता श्रेयस विजय के बताए रास्ते पर चलने लगता है और संयोगवश उसका रुका हुआ काम भी होने लगता है श्रेयस इस बात से इतना प्रभावित होता है कि अंधविश्वास के अंधकार में डूब जाता है ।

यह भी पढ़ें  फिल्म परस्त्री रिलीज़ के साथ साथ काफ़ी अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है

जब ये बात अक्ष परदासनी को पता चलता है तो वो भी इंडिया आती है और श्रेयस का इलाज इलाज करवाती है तब जाकर श्रेयस ठीक होता हैं । फिल्म की कहानी अच्छी है बस कुछ जगहों में सीन का दोहराव देखने को मिलता है, इसके साथ ही फिल्म की शुरुआत थोड़ी धीमी है ऐसा लगता है जैसे फिल्म के पहले हाफ को बहुत ज्यादा खींचने की कोशिश की गई है इससे अच्छा होता फिल्म की समय अवधि कम कर दी जाती । फिल्म का निर्देशन सोहम पी शाह ने किया है और फिल्म की कहानी भी शाह ने ही लिखी है ।

यह भी पढ़ें  भाकपा (माले) का संकल्प सभा
Between You and Me
Advertisement

 

फिल्म की पटकथा लेखन में जो कमी रह गई थी शाह उसे अपनी निर्देशन से भी पूरी नहीं कर पाए और कुछ सीन्स का दोहराव एक दूसरी कमी है । जहां तक फिल्म कलाकारों के अभिनय का सवाल है तो श्रेयस तलपड़े ने शानदार काम किया है । श्रेयस अपने किरदार में पूरी तरह ढल जाते हैं इसके विपरित ज्योतिष के रूप में विजय राज ने भी शानदार अभिनय किया है अक्ष परदासनी ने भी अपनी भूमिका निभाने में कोई कसर नहीं छोड़ी ये उनके करिअर के लिए बहुत अच्छा है ।वहीं विजय राज (Vijay Raaz) की पत्नी के रूप में मधु (Madhoo) ने भी बेहतरीन अभिनय किया है फिल्म संगीत की बात करें तो फिल्म संगीत शानदार तो नहीं लेकिन माध्यम है जो चुभती नहीं हैं । कुलमिलाकर फिल्म की कहानी और फिल्म में आपको अच्छा अभिनय देखने को मिलता है । अगर फिल्म के रेटिंग की बटबकरें तो फिल्म को 2.5 स्टार मिलने चाहिए । (This review is featured in IMDb Critics Reviews)

यह भी पढ़ें  संजय भूषण पटियाला को मिला दादा साहेब फाल्के इंडियन टेलीविजन अवॉर्ड

Ashok Ashq

Ashok ‘’Ashq’’, Working with Gaam Ghar News as a Co-Editor. Ashok is an all rounder, he can write articles on any beat whether it is entertainment, business, politics and sports, he can deal with it.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button