UPराष्ट्रीय समाचारसमाचार

झूठे आरोप लगाकर छवि धूमिल करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे – रवि किशन

हमें न्याय तंत्र पर पूरा भरोसा, झूठे आरोप लगाकर छवि धूमिल करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे - रवि किशन

उतरप्रदेश: गोरखपुर से वर्तमान भाजपा सांसद अभिनेता मेगास्टार रवि किशन के ऊपर झूठे आरोप लगाकर उनके डीएनए टेस्ट की अर्जी लगाने वाली महिला शिनोवा शुक्ला को अदालत से फटकार मिली है । कोर्ट ने सीधे सीधे रवि किशन को बड़ी राहत देते हुए कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा कहीं से भी नहीं लगता कि इस केस में कुछ भी संदेहास्पद है जिसके लिए डीएनए टेस्ट की अनुमति दी जाए । इसमें कहीं से भी ऐसा नहीं लगता है कि महिला की मां और रवि किशन के बीच किसी भी तरह का कोई पारिवारिक संबंध रहा हो। तो फिर अदालत किस आधार पर इनका डीएनए टेस्ट कराएगी । इस फैसले के बाद रवि किशन अब आक्रामक रुख अख़्तियार कर चुके हैं और उनके जानने वाले कहते हैं कि दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा ।

इस केस में जिन जिन लोगों ने छवि धूमिल करने का प्रयास किया है उन सबको जेल जाना होगा और रवि किशन की मानहानि का हर्जाना भी भरना होगा । यह कोई साधारण आरोप नहीं था और इसे लोकसभा चुनावों के ठीक पहले पब्लिक में उछालकर एक बेहद गलत संदेश फैलाया गया और इससे लोगों के मन में तरह तरह के विचार उतपन्न होते लेकिन समय रहते हुए ही माननीय अदालत ने दूध का दूध और पानी का पानी कर दिया ।

विदित हो कि अभी कुछ ही दिनों पहले एक महिला अपर्णा सोनी उर्फ अपर्णा ठाकुर ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मेगास्टार रवि किशन पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा था कि रवि किशन उनकी बेटी शिनोवा के बायलोजिकल पिता हैं । और इस महिला ने इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हुए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक इन झूठे आरोपों के साथ पहुंचने की कोशिश की थी । ऐसे में सांसद रवि किशन मुश्किलों में घिरते हुए नजर आए थे लेकिन आज मुम्बई के दिंडोशी कोर्ट के अंदर से आये इस केस के फैंसले से रवि किशन को बहुत बड़ी राहत मिली है । अभी डिटेल जजमेंट की कॉपी बाहर नही आई है लेकिन रवि किशन के करीबियों का कहना है कि इस पूरे मामले में बड़ी साजिश रची गई थी जिसका भंडाफोड़ आज अदालत के अंदर हो गया है और अब इस मामले में दोषियों को अंदर जाने के लिए तैयार रहना होगा ।

यह भी पढ़ें  चोरों ने नगदी सहित लाखों के सामान व जेवरात कि चोरी

दरअसल देश के अंदर लोकसभा चुनावों की धमक पड़ चुकी है और आज दूसरे चरण का चुनाव भी देशभर के 88 लोकसभा सीटों पर हो रहा है , ऐसे में रवि किशन को भारतीय जनता पार्टी ने पुनः गोरखपुर से सांसद का उम्मीदवार घोषित किया है । वो दिनरात क्षेत्र में जनता के बीच जाकर अपने चुनाव की तैयारियों में लगे हुए हैं । इलाके में बढ़ते प्रभाव को देखते हुए इनके विरोधियों ने रवि किशन के ऊपर साजिशन बदनाम करने और चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को बड़े स्तर पर नुकसान पहुंचाने की मंशा से रवि किशन पर शिनोवा शुक्ला और अपर्णा सोनी ने ऐसा घिनौना आरोप लगाकर लाइम लाइट बटोरने की कोशिश किया तब मजबूर होकर रवि किशन की पत्नी भी अदालत की शरण मे पहुंची और उन्हें चैलेंज किया है ।

यह भी पढ़ें  नया इतिहास रचाने वाली है रवि किशन की फिल्म 'महादेव का गोरखपुर'

इधर शिनोवा शुक्ला के दिंडोशी कोर्ट में डीएनए टेस्ट को लगाए गए अर्जी को आज कोर्ट ने खारिज करते हुए स्पस्ट शब्दों में यह कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा कुछ भी प्रतीत नहीं होता इसलिए यह डीएनए टेस्ट की याचिका खारिज की जाती है । सांसद अभिनेता रवि किशन के नजदीकी सूत्रों ने कहा कि अपने संसदीय क्षेत्र में हजारों लोगों को रोजगार के अवसर सृजित करने वाले लोकप्रिय अभिनेता सांसद को बदनाम करने वाले जल्द ही सलाखों के पीछे होंगे । इसमें जो भी बड़े बड़े नाम शामिल हैं उनमें से किसी को भी माफ नहीं किया जाएगा और वो आरोप लगाने वाली महिला भी जल्द ही जेल जाएगी । यह सारी जानकारी रवि किशन के निजी प्रचारक संजय भूषण पटियाला ने मुम्बई से दिया ।

यह भी पढ़ें  सेवानिवृत्त होने पर विदाई समारोह आयोजित कर प्रधानाध्यापक रामशरण मंडल को किया गया सम्मानित

Abhishek Anand

Abhishek Anand, Working with Gaam Ghar News as a author. Abhishek is an all rounder, he can write articles on any beat whether it is entertainment, business, politics and sports, he can deal with it.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button