बिहारराजनीतिसमाचार

श्रवण कुमार छठी बार बने मंत्री

उनका राजनीतिक कैरियर जेपी आंदोलन से शुरू हुआ था

पटना : श्रवण कुमार शुरू से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी और उनके सहयोगी रहे हैं। जेपी आंदोलन के दिनों से राजनीतिक संघर्ष के रूप में इनकी पहचान रही है, नालंदा जिले के नालंदा विधान सभा से लंबे समय तक विधायक निर्वाचित हो रहे श्रवण कुमार पार्टी के विधानसभा में मुख्य सचेतक भी रहे है,. वे संसदीय कार्य और ग्रामीण कार्य व ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री रहे हैं, पिछली सरकार में वे ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री रहे, मंत्री श्रवण कुमार झारखंड राज्य इकाई के प्रभारी भी रहे हैं. वे नीतीश के भरोसेमंद हैं. जनता दल के विभाजन के साथ ही नीतीश के साथ आ गये थे।

यह भी पढ़ें  आज का पंचांग एवं राशिफल आचार्य धीरज द्विवेदी "याज्ञिक"

आपको बता दे की 66 वर्षीय श्रवण कुमार नालंदा से विधायक और जदयू के वरिष्ठ नेताओं में एक हैं। श्री श्रवण कुमार के पिता किसान थे, जिनका नाम स्व हरि प्रसाद सिंह है। वह नालंदा के ही वेन के रहने वाले हैं। श्रवण कुमार छठी बार मंत्री बने हैं।

साथ ही कई वर्षों से ग्रामीण विकास विभाग संभाल रहे : श्रवण कुमार पिछले कई वर्षों से ग्रामीण विकास विभाग संभाल रहे थे। साथ ही संसदीय कार्य विभाग के भी वह मंत्री रहे हैं। उनका राजनीतिक कैरियर जेपी आंदोलन से शुरू हुआ था। पूर्व केंद्रीय मंत्री जार्ज फर्नाडिस के भी श्रवण कुमार सहयोगी रहे हैं।

यह भी पढ़ें  सुमन वृक्ष  को "शारदा संतति सम्मान" देकर सम्मानित किया

Gaam Ghar

Editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button