कला-संस्कृतिनवादाबिहारभाषा-साहित्यमनोरंजनसमाचार

राहुल वर्मा बने मगही के ब्रांड अम्बेडर

अखिल भारतीय मगही प्रचारनी सभा सम्मेलन

अखिल भारतीय मगही प्रचारनी सभा

नवादा: मगही को बढ़ाना है और इसके एक सशक्त पहचान देनी है तो इसे दिल से अपनाना होगा। मगही को पढ़ना-पढ़ाना होगा। मगही की पढ़ाई सभी विश्वविद्यालयों में कराने संबंधी एक प्रस्ताव पारित किया गया। अखिल भारतीय मगही प्रचारनी सभा के दूसरे जिला सम्मेलन में इस प्रस्ताव के अलावा मगही को संवैधानिक दर्जा दिलाने के लिए तेज-तर्रार अभियान चलाने का प्रस्ताव पारित किया गया जबकि आगामी जनगणना में भाषा के कॉलम में मगही को जोड़ने संबंधी प्रस्ताव पारित किया गया। इन मुख्य प्रस्तावों के अलावा एक सम्मान योजना चलाने का प्रस्ताव पारित हुआ। प्रखर शिक्षाविद सह समाजसेवी स्व.युगल किशोर मिश्र की स्मृति को नमन करते हुए उनके नाम पर मगही के किसी भी विधा में बेहतर कार्य करने वाले को प्रतिवर्ष सम्मानित करने का निर्णय लिया गया।

advertising

शहर के सटे बुधौल में रविवार को वीणा पाणि उच्चतर माध्यमिक विद्यालय प्रांगण में आयोजित जिला सम्मेलन की अध्यक्षता वीणा मिश्रा ने की जबकि उन समेत अतिथियों के रूप में उपस्थित सभा के राष्ट्रीय संरक्षक डॉ.राम कृष्ण, राष्ट्रीय सभापित डॉ.सच्चिदानंद प्रेमी, महामंत्री नरेन्द्र सिंह, मगध विश्वविद्यालय के मगही के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ.भरत सिंह, मगही मगध नागरिक संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष पारस कुमार सिंह और फिल्म अभिनेता राहुल वर्मा ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया। अभिंनदन गीत, गीतांजलि और पुष्पांजलि से कार्यक्रम को आगाज दिया जिसके बाद सभी प्रमुख वक्ताओं ने मगही के उन्नयन को लेकर अपने विचार व्यक्त किए। मुख्य रूप से यह बात सामने आयी कि मगही का सम्मान अपनी माता की तरह किया जाना चाहिए। मगही देश के प्राचीनतम भाषाओं में से एक है। देश के जो वेदों की भाषा है, उसमें मगही सर्वप्रथम भाषा है। इस भाषा के उत्थान एवं विकास के लिए सभी को आगे बढ़कर पहल करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि साहित्य समाज का दर्पण ही नहीं बल्कि एक रास्ता दिखलाता है इसलिए अखरा के प्रकाशन को नियमित करने समेत पाठ्यक्रम आदि के लिए भी सृजन हो। मौके पर सभी अतिथियों समेत पत्रकार व इतिहासकार डॉ.अशोक प्रियदर्शी, पत्रकार-साहित्यकार राजेश मंझवेकर, ओंकार शर्मा कश्यप व मनमोहन कृष्ण, सूरज कुमार, डॉ.गोपाल निर्दोष, उपेन्द्र प्रेमी, प्रवीण बटोही, राजकुमारी, माधुरी शर्मा आदि को सम्मानित किया गया।

advertising

राहुल वर्मा बने मगही के ब्रांड अम्बेडर

यह भी पढ़ें  श्रावण मास में करें भगवान आशुतोष की विशेष पूजा _आचार्य धर्मेंद्रनाथ मिश्र
राहुल वर्मा

नवादा के सिने अभिनेता राहुल वर्मा मगही के ब्रांड अम्बेसडर बनाए गए हैं। बैठक में इस प्रस्ताव को सभी अतिथियों और उपस्थित मगही भाषियों ने सहर्ष पारित कर दिया। इस मौके पर राहुल वर्मा ने अपने संबोधन में अपनी मगही फिल्म तिलक की वर्ल्डवाइड सफलता की चर्चा करते हुए कहा कि अब मगही विश्वव्यापी हो चली है इसलिए मेरी आगामी 90 फीसदी फिल्में मगही में ही होंगी। इसके साथ ही अब मैं शॉर्ट ही नहीं फूल लेंथ फिल्में बनाऊंगा और मगही को उच्च शिखर तक ले जाने की अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करूंगा। मगही के प्रचार-प्रसार का जिम्मा भी उन्होंने उठाया।

यह भी पढ़ें  बिहार के चार लोगों को अब तक भारत रत्न सम्मान से नवाजा गया है

 

 

advertising

नई कमेटी की अध्यक्ष बनीं वीणा मिश्रा
अखिल भारतीय मगही प्रचारणी सभा की नवादा जिला इकाई का गठन कर वीणा मिश्रा को जिलाध्यक्ष मनोनीत किया गया। संरक्षक मंडल में डॉ.अशोक प्रियदर्शी, सूरज कुमार, वीणा देवी, निवेदिता सिंह, माधुरी शर्मा, पारस कुमार सिंह, कैलाश प्रसाद सिंह को रखा गया है। सुरेश शर्मा और राजेश मंझवेकर को उपाध्यक्ष, तनिक सिंह को जिला मंत्री, ओंकार शर्मा कश्यप व डॉ.नागेन्द्र उपाध्याय को संयुक्त मंत्री, राज कुमारी को कोषाधिकारी जबकि चंद्रमौली सिंह, गौतम कुमार सरगम, नीरज पासवान, संगीता कुमारी, निशा कुमारी, डॉ.गोपाल प्रसाद निर्दोष और राहुल वर्मा को कार्यकारिणी सदस्य मनोनीत किया गया है।

यह भी पढ़ें  मास्क टीवी ओटीटी पर रामायण की सीता ने हिंदुत्व में गुरु माँ बनकर कहा की हिंदुत्व आक्रमण नहीं समर्पण सिखाता है
Gaam Ghar

बही काव्य धारा, सराबोर हुए सभी अंतिम सत्र में कवि ओंकार शर्मा कश्यप के मंच संचालन में कवि सम्मेलन का आयोजन किया। कविवर नरेन्द्र सिंह समेत जयनंदन सिंह, ओंकार शर्मा कश्यप, सुरेश शर्मा, राज कमल आदि ने काव्य पाठ किया। मौके पर जादूगर मनोज कुमार ने हाथ की सफाई दिखा कर सभी को प्रभावित कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button