बिहारसमस्तीपुरसमाचार

सिर पर कफ़न बांधकर समस्तीपुर की सड़कों पर निकलें

न जाने किस गड्ढे में आपकी मौत हो जाए- सुरेन्द्र

समस्तीपुर : सिर पर कफ़न बांधकर समस्तीपुर की सड़कों पर निकलें, न जाने किस गड्ढे में आपकी मौत हो जाए।
शहर की टूटी सड़कें, नाले, सलैब एवं उसके उपर जलजमाव पर तल्ख़ टिप्पणी करते हुए भाकपा माले जिला स्थाई समिति सदस्य सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने निरिक्षण के क्रम में कहा है कि आदर्शनगर, विवेक- विहार, काशीपुर, बारह पत्थर, बीएड कालेज मुहल्ला, सोनवर्षा, तिरहुत ऐकडमी आदि जगह की सड़के गड्ढे में तब्दील है।

यह भी पढ़ें  जिला अस्पताल स्थापना दिवस पर सदर अस्पताल में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन
advertisement
Advertisement

नाले एवं नाले के उपर रखा सलैब टूटा हुआ है। कई जगह नाले पर सलैब है ही नहीं। वर्षा का जलजमाव होने पर सड़क है या गड्ढे या फिर नाले पता ही नहीं चलता। राहगीर एवं वाहन चालक इसमें गिरकर दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं।

Advertisement
Advertisement

माले नेता ने कहा कि नाला बनाने, सलैब डालने, नाले की उड़ाही, नाले एवं सड़क की सफाई में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार है। आगे- आगे सड़क, नाला, सलैब बनाया जाता है और पीछे- पीछे टूटता चला जाता है। भ्रष्टाचार के कारण इंजिनियर, ठेकेदार, निर्माण ऐजेंसी पर कोई कारबाई नहीं किया जाता। चांदी के जूते भारी पड़ जाते हैं।

यह भी पढ़ें  मास्क चेकिंग अभियान में धराए 50 लोग से जुर्माना वसूला गया।
MithiBhoj
Advertising

उन्होंने कहा कि लाखों- लाख रूपये नाला, सलैब, जलनिकासी, सफाई आदि के नाम पर निकासी कर लिया गया लेकिन कहीं भी योजनानुसार काम नहीं किया गया। फलतः मानसून की प्रथम बारिश में ही शहर की स्थिति नारकीय है।

Advertisement

माले नेता ने जिलाधिकारी से उक्त आरोपों की जांच कर दोषी कार्य ऐजेंसी पर कारबाई करने एवं युद्ध स्तर पर शहर की सड़कें, नाले, सलैब बनाने की मांग की है।

यह भी पढ़ें  बिहार शिक्षा चर्चा

Gaam Ghar

Editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button