नालंदासमाचार

17 साल से अपने भाई की जगह पर स्वास्थ्य विभाग में नौकरी कर रहे एक शख्स को गिरफ्तार किया गया

लेकिन साली ने बिगाड़ा सारा खेल

नालंदा: बिहारशरीफ में 17 साल से अपने भाई की जगह पर स्वास्थ्य विभाग में नौकरी कर रहे एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। जांच में पता चला था कि वह अपने भाई की जगह पर नौकरी कर रहा था, जबकि भाई की काफी समय पहले मौत हो चुकी है। भाई की जगह नौकरी करने वाले स्वास्थ्य कर्मी श्यामनंदन प्रसाद को नूरसराय पुलिस ने बिहारशरीफ के इमादपुर मोहल्ले से गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

यह भी पढ़ें  दिव्यांग जनों के बीच MTC साइकिल का वितरण

वह नूरसराय अस्पताल में अधिकारियों की आंखों में धूल झोंककर 17 साल तक बतौर चतुर्थ वर्गीय कर्मी बनकर सेवा देता रहा। वह अपनी मंशा में सफल भी हो जाता, यदि भाई जगदानंद प्रसाद की साली संगीता देवी डीएम से शिकायत नहीं करतीं।

महिला के आवेदन पर डीएम ने तत्कालीन सीएस को जांच का आदेश दिया। जांच में चौंकाने वाले कई तथ्य सामने आए हैं। वह जिस भाई की जगह पर इतने दिनों से नौकरी कर रहा था, उसकी पहले ही मौत हो चुकी थी। सारी बातों को छुपाकर वह 19 दिसंबर 2001 से 17 जनवरी 2018 तक नौकरी करता रहा।

यह भी पढ़ें  Cricket : 434 रनों के विशाल अंतर से जीता इंडिया

जांच के बाद तत्कालीन चिकित्सा पदाधिकारी डा. इंद्रदीप नारायण चौधरी ने नूरसराय थाने में जालसाजी का मामला दर्ज कराया था।मामला दर्ज होने के बाद से वह फरार चल रहा था। नूरसराय पुलिस ने सूचना पर बिहार थाना के इमादपुर मोहल्ले के निजी घर से उसे मंगलवार की रात धर दबोचा।

यह भी पढ़ें  मां-बाप की मर्जी से करें शादी, वर्ना अंजाम बुरा हो सकता है - डीजीपी एसके सिंघल

हालांकि, गिरफ्तार बुजुर्ग श्यामनंदन प्रसाद खुद को आज भी जगदानंद प्रसाद बता रहा है। उसने खुद को जगदानंद प्रसाद साबित करने के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। वहां उसके मामले की सुनवाई लंबित है।

 

Gaam Ghar

Editor

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button