Digitalअंतर्राष्ट्रीय समाचारबिहारराष्ट्रीय समाचारवीडियोसमाचार

वायरल सोनू से उलझते हुए पत्रकार पर लोग बोले, ये पत्रकारिता है या गुंडागर्दी

बिहार: हाल ही में बिहार में सोनू कुमार नाम के एक बच्चे का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था. इस वीडियो में ये बच्चा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने हाथ जोड़कर पढ़ाई के लिए मदद मांगते हुए नजर आया था. वहीं इस बच्चे का अब एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में एक पत्रकार इस बच्चे से उलझता हुआ नजर आ रहा है. वीडियो में पत्रकार इस बच्चे से चिल्लाते हुए सवाल करते हुए दिख रहा है. वहीं ये वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स इस पत्रकार पर भड़क गए.

इस वीडियो में ये पत्रकार बच्चे से चिल्लाते हुए सवाल कर रहा है कि तुम सैनिक स्कूल में पढ़ने के लिए कहने गए थे या फिर प्राइवेट स्कूल में. इस पर सोनू गुस्से में जवाब देने लगता है तो पत्रकार भी और ज्यादा चिल्लाने लगता है और कहता है कि उसी स्कूल में पढ़ने से तुम आईएस नहीं बन जाओगे, आईएएस बनने के लिए सिर्फ सैनिक स्कूल में नहीं पढ़ा जाता है. इसके बाद दोनों के बीच जोरदार बहस होती है.

पत्रकार ने बेहद बदतमीजी के साथ की बात

यह भी पढ़ें  मिलकर करेंगे खानपुर प्रखंड का विकास - विधायक

इसके बाद ये पत्रकार रौब झाड़ते हुए बेहद बदतमीजी के साथ बच्चे से कहता है कि तुम्हें मीडिया ने वायरल किया है, तुम कोई नेता नहीं हो जो तुम्हें कोई गिराएगा. साथ ही ये पत्रकार बेहद गुस्से में बच्चे से कहता है कि एकदम चुप रहो और उंगली दिखाकर बात मत करना. तुम पांच दिन से बिहार में माहौल बनाकर रखे हो कि तुम्हें कोई गोद नहीं ले रहा है. कोई तुमसे पूछकर सवाल नहीं करेगा.

लोगों ने पत्रकार को बताया घमंडी

इस दौरान सोनू के पास बैठे एक व्यक्ति ने जब इस पत्रकार से कहा कि आराम से बात कीजिए, चिल्लाइए मत. तो इस बात के बाद ये पत्रकार और भड़क उठता है और उस व्यक्ति पर भी चिल्लाने लगता है. वहीं इस वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर लोग कई तरह की प्रतिक्रिया देते नजर आ रहे हैं. जिसमें कई लोग इस पत्रकार को घमंडी तक कह रहे हैं.

यह भी पढ़ें  18 सुत्री मांगो के समर्थन मे प्रारंभिक शिक्षक संघ ने दिया एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन

लोग बोले- ये पत्रकारिता कम गुंडागर्दी ज्यादा

अंशुल सिंह नाम के एक टि्वटर हैंडल से इस वीडियो को शेयर कर लिखा कि ये पत्रकारिता कम गुंडागर्दी ज्यादा है. वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि ये कौन सी पत्रकारिता है? कहां से आते हैं ऐसे लोग? माइक थाम लेने से कोई पत्रकार नहीं हो जाता. क्या ऐसे भी पत्रकार होते हैं? कुछ लोगों ने कहा कि एक बच्चे से इस तरह से डरा धमकाकर सवाल पूछना पत्रकारिता नहीं बल्कि गुंडागर्दी है. बच्चे पर पत्रकारिता का दम दिखा रहे इस इंसान को शर्म आनी चाहिए. ये एक बच्चे के मनोबल को कमजोर करने का काम कर रहा है. ये बहुत गलत है.

यह भी पढ़ें  बीएनएमयू ने घटना के दो माह पहले बैठक कर लिया जांच का फैसला मामले को रफा दफा करने की साज़िश

सीएम नीतीश कुमार के साथ बातचीत की वीडियो हुई थी वायरल

गौरतलब है कि पिछले दिनों बिहार के नालंदा निवासी सोनू कुमार की सीएम नीतीश कुमार से हुई कुछ देर की बातचीत ने सुर्खियां बटोरी थी. बीते शनिवार को पत्नी मंजू सिन्हा की पुण्यतिथि पर पैतृक गांव कल्याण बिगहा पहुंचे सीएम नीतीश कुमार से 12 साल के सोनू ने कहा था कि वह भी आईएएस बनना चाहता है, लेकिन स्कूल में मास्टर साहब देर से आते हैं और गप्पे मारकर जल्द चले जाते हैं. टीचर को अंग्रेजी नहीं आती है. उसके पापा शराब पीते हैं. सोनू की इन बातों का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था.

N Mandal

N Mandal, Gam Ghar News He is the founder and editor of , and also writes on any beat be it entertainment, business, politics and sports.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button